google.com, pub-5665722994956203, DIRECT, f08c47fec0942fa0
 

गाजर का सेवन, दिल और त्वचा को हेल्थी रखता है | Consuming Carrots, Keeps Heart and Skin Healthy




गाजर एक सब्ज़ी का नाम है। यह लाल, काली, नारंगी, कई रंगों में मिलती है। गाजर में विटामिन ‘ए’,'बी’, ‘सी’, ‘डी’,'ई’, ‘जी’, और ‘के’ मिलते हैं। कच्ची गाजर खाने से कब्ज की परेशानी खत्म हो जाती है। यह पीलिया की प्राकृतिक औषधि है। इसका सेवन, कैंसर और पेट के कैंसर में भी लाभदायक है। गाजर में बिटा-केरोटिन नामक औषधीय तत्व होता है, जो कैंसर और इम्यूनिटी सिस्टम तो मजबूत करता है साथ ही आँखों की रोशनी भी बढ़ाता है गाजर के सेवन से शरीर को उर्जा मिलती हे।

__________________



सर्दियों का मौसम आते ही ताजी और पौष्टिक और ताजी सब्जियों का मौसम शुरू हो जाता है। गाजर एक सब्ज़ी का नाम है। यह लाल, काली, नारंगी, कई रंगों में मिलती है। यह पौधे की मूल (जड़) होती है। इसका सेवन सर्दियों में काफी बढ जाता है। यह स्वास्‍थ्‍य के लिए बहुत अच्छा भोजन हैं। सर्दियों में गाजर मीठी और रस से भी होती हैं। गाजर स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत ही लाभकारी होती हैं। गाजर में अनेक पोषक तत्‍व पाये जाते हैं। गाजर खाना हर किसी को पसंद होता है

गाजर में विटामिन ‘ए’,'बी’, ‘सी’, ‘डी’,'ई’, ‘जी’, और ‘के’ मिलते हैं। कच्ची गाजर खाने से कब्ज की परेशानी खत्म हो जाती है। यह पीलिया की प्राकृतिक औषधि है। इसका सेवन, कैंसर और पेट के कैंसर में भी लाभदायक है। गाजर में बिटा-केरोटिन नामक औषधीय तत्व होता है, जो कैंसर और इम्यूनिटी सिस्टम तो मजबूत करता है साथ ही आँखों की रोशनी भी बढ़ाता है गाजर के सेवन से शरीर को उर्जा मिलती हे।

गाजर के एक गिलास जूस में इतने पौष्टिक तत्‍व होते हैं क गाजर पूर्ण भोजन के रूप में लिया जा सकता है। इसके सेवन से रक्त में वृद्धि होती है। गाजर प्रायः हरेक रोग में सेवन की जा सकती है। गाजर के रस में विटामिन ‘ए’,'बी’, ‘सी’, ‘डी’,'ई’, ‘जी’, और ‘के’ मिलते हैं। गाजर का सेवन ब्लड कैंसर और पेट के कैंसर में भी लाभदायक है। इसके सेवन से कोषों और धमनियों को संजीवन मिलता है। नियमित रूप से गाजर खाने से जठर में होने वाला अल्सर और पाचन संबंधी विकार दूर होते हैं। गाजर में अम्ल घटक होते हैं जो शरीर में मौजूद आम्ल का प्रमाण संतुलित करके रक्त शुद्ध करता है। गाजर में पोटेशियम होता है जो रक्तदाब बढ़ाने में मदद करता है।

गाजर खाने से मुह में हानिकारक कीटाणुओं का नाश होता है और दांत में लगने वाला कीडा नही लगता है। गाजर में कॅरोटीनॉड्स होते है जो शरीर में मौजूद रक्त की शक्कर नियंत्रित रखने में मदद करती है। नियमीत रूप से गाजर खाने से बाल, आंख और त्वचा में काफी लाभ मिलता है।

गाजर दिल को सेहतमंद रखती है

गाजर खाने से आपका दिल सेहतमंद रहता है। गाजर में पाये जाने वाले बीटा-कैरोटीन, अल्‍फा-कैरोटीन और लुटेइन जैसे एंटीऑक्‍सीडेंट कोलेस्‍ट्राल लेवल को नियंत्रित रखता है। जिसके चलते हार्ट अटैक का खतरा बहुत ही कम हो जाता है।



कमजोरी दूर करता है

उम्र के साथ-साथ शरीर कमजोर होने लगता है गाजर के सेवन से शरीर से कई बीमा‍रियां दूर होती हैं। गाजर का जूस नियमित रूप से पीने से शरीर में खून की कमी दूर होती है।

पाचन शक्ति मजबूत होती है

गाजर का नियमित रूप से सेवन पाचन शक्ति मजबूत होती है पाचन शक्ति मजबूत होने से हम स्‍वस्‍थ रहते हैं।

कैंसर में असरदायक

कच्‍ची गाजर चबाकर खाने और गाजर के पत्‍तों का जूस पीने से ये कैंसर में औषधि का कार्य करती है। गाजर के पत्‍तों में प्रचुर मात्रा में आयरन होता है, इसके अलावा इसमें विद्यमान बीटा-कैरोटिन नामक औषधि कैंसर को बढने से रोकने में मदद करती है।



गाजर का सेवन, ब्‍लड प्रेशर को नियत्रित रहता है

गाजर खाने से ब्‍लड प्रेशर नियंत्रित रहता है। गाजर में मौजूद पोटेशियम, ब्‍लड प्रेशर को घटने और बढने नहीं देता। इसके अलावा गाजर कई रोगों में रामबाण का काम करता है गाजर खाने से पीलिया, गठिया, अपच जैसी कई समस्‍याओं में फायदा मिलता है।

गर्भावस्‍था में लाभदायक

महिलाओं को प्रेग्‍नेंसी के दौरान गाजर का जूस अवश्‍य पीना चाहिए। गाजर का जूस गर्भावस्‍था में खून की कमी को दूर करता है। गाजर में मौजूद कैल्सियम, भ्रूण के विकास में मदद करता है।



सौंदर्य में वृ‍द्धि

गाजर का नियमित सेवन त्‍वचा को जवां बनाता है। गाजर के नियमित सेवन से खून साफ होता है जिससे सौंदर्य में वृद्धि होती है। गाजर में एंटी-एजिंग गुण होते हैं, जो त्वचा को झुर्रियों, पिगमेंटेशन व महीन रेखाओं से बचाने में मदद कर सकते हैं। गाजर में बीटा-कैरोटिन होता है, जो त्वचा को मुक्त कणों व सूरज की हानिकारक किरणों से बचा सकता है।



 
 
google.com, pub-5665722994956203, DIRECT, f08c47fec0942fa0